Menu
header photo

SHEKHAWATI TODAY

16 जनवरी 2019 से 31 जनवरी तक के समाचार

फतेहपुर

 

 

डॉ मधु शर्मा को दिया जायेगा, इन्डो- नेपाल समरसता अवार्ड 2018

20fatehpur

फतेहपुर, 20 जनवरी।वरिष्ठ शिक्षाविद् और समाजसेविका डॉ मधु शर्मा को इन्डो-नेपाल समरसता संगठन द्वारा वर्ष 2018 के इन्डो-नेपाल समरसता अवार्ड हेतु नामित किया गया हैं। भगवानदास तोदी महाविद्यालय लक्ष्मणगढ़ की पूर्व प्रवक्ता और फतेहपुर स्थित विनायक गर्ल्स पीजी कालेज की प्राचार्या डॉ शर्मा को शिक्षा और सामाजिक क्षेत्रों में किये गये उल्लेखनीय कार्यों व उपलब्धियों के लिये 12 फरवरी 19 को जयपुर में आयोजित होने वाले सम्मान समारोह में उक्त पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। इस हेतु इण्डो नेपाल समरसता संगठन के सचिव ने अधिकृत पत्र प्रेषित कर डॉ शर्मा को इस कार्यक्रम में सम्मानित किये जाने की जानकारी देते हुये पुरस्कृत किये जाने हेतु आमंत्रित किया है। डॉ शर्मा को पुरस्कृत किये जाने की सूचना पर विनायक शिक्षण समूह के अध्यक्ष महेश शर्मा और कालेज निदेशक मनोज शर्मा सहित लक्ष्मणगढ़ और फतेहपुर क्षेत्र के विभिन्न शिक्षण व सामाजिक संस्थानों तथा सामाजिक संगठनों के संचालकों व पदाधिकारियों ने प्रसन्नता जाहिर करते हुये डॉ शर्मा को बधाइयां दी है

 

अहिंसा के जीवन शैली सर्वश्रेष्ठ जीवन शैली: शांडिल्य

फतेहपुर शेखावाटी19 फरवरी। राजकीय मनी देवी स्मृति उच्च प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में अहिंसा प्रशिक्षण केंद्र के तत्वावधान में अहिंसा  प्रशिक्षण का एक दिवसीय आयोजन किया गया है कार्यक्रम की अध्यक्षता विद्यालय के प्रधानाध्यापक भंवरलाल मेघवाल ने किया इस अवसर पर अहिंसा प्रशिक्षक सतीश से शांडिल्य ने कहा की अहिंसा भारतीय संस्कृति का आधार रहा है अहिंसा वह अमृतधारा है जो समाज और राष्ट्र को जीवित रखता है अहिंसा है तो हम हैं आप हैं एवं सृष्टि के प्राणी हैं इस शिविर में शांडिल्य ने  हिंसा के प्रकार एवं हिंसा के निवारण का उपाय भी बताया  स्मरण शक्ति के प्रयोग के लिए महाप्राण ध्वनि एवं  तनाव से मुक्ति पाने के लिए कायोत्सर्गा प्रयोग कराया इस अवसर पर अध्यक्षता करते हुए प्रधानाध्यापक भंवरलाल मेघवाल ने कहा की बच्चे राष्ट्र के भविष्य है अच्छे बच्चे होंगे तो वह राष्ट्र भी अच्छा होगा अहिंसा के बीज इन वर्तमान वीडियो में पहुंचाना जरूरी है अहिंसा ही समस्या का समाधान है हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं है इन्होंने बढ़ती हिंसा पर चिंता जताया तथा विद्यार्थियों में सकारात्मक सोच के साथ एवं समय का प्रबंधन कर पढ़ाई के साथ संस्कार बल पर भी जोड़ दिया और कहा कि शिक्षा और संस्कार बहुत ही जरूरी है शिविर के समापन पर वरिष्ठ शिक्षक महावीर मेघवाल ने आभार जताया तथा अहिंसा के प्रायोगिक बल पर विशेष जोड़ दिया और कहा की शिक्षा के साथ अच्छे संस्कार भी जरूरी है अहिंसा अध्यात्म की महक है विद्यालय में अहिंसा बाल वाहिनी के छात्र संसद  ने संयम मय जीवन हो प्रार्थना से शिविर का कार्यक्रम शुरू हुआ इस अवसर पर विद्यालय के छात्र छात्रा संसद शिक्षक शिक्षिका संसद एवं गणमान्य लोग उपस्थित थे

 


शेखावाटी के अन्य स्थानों की खबरें-   रामगढ  चूरू   लक्ष्मणगढ   सीकर   झुंझुनूं    प्रदेश   रतनगढ    बिसाऊ

Visitor No.

16915

शेखावाटी के अन्य स्थानों की खबरें 

रामगढ                  फतेहपुर   लक्ष्मणगढ            सीकर   चूरू                      झुंझुनूं      प्रदेश          रतनगढ    बिसाऊ